17 December 2018
New Delhi

यह प्रशिक्षण, इस श्रृंखला की तेरहवीं कड़ी है| प्रशिक्षण के लिए आवेदन पत्र आप यहाँ से डाऊनलोड कर सकते हैं। भरे हुए आवेदनपत्र भेजने की आख़िरी तिथि 12 अक्टूबर  2018 है |

 
विशेष - चयन की प्रक्रिया प्रतिभागियों के मिल रहे आवेदनों के साथ ही शुरू हो जायेगी। आपसे अनुरोध है की जल्द से जल्द प्रशिक्षण के लिए आवेदन पत्र भेजें।  

 
'यौनिकता,जेंडर एवं  अधिकार - एक अध्ययन' क्रिया द्वारा संचालित, एक सप्ताह का आवासीय अध्ययन कार्यक्रम है।इस कार्यक्रम में समुदाय आधारित संस्थाओं में कार्यरत महिलाओं को यौनिकता, अधिकार, जेंडर और प्रजनन स्वास्थ्य के वैचारिक सिद्धांतों से अवगतLink for.....

17 December 2018
New Delhi

यह प्रशिक्षण, इस श्रृंखला की तेरहवीं कड़ी है| प्रशिक्षण के लिए आवेदन पत्र आप यहाँ से डाऊनलोड कर सकते हैं। भरे हुए आवेदनपत्र भेजने की आख़िरी तिथि 12 अक्टूबर  2018 है |

 
विशेष - चयन की प्रक्रिया प्रतिभागियों के मिल रहे आवेदनों के साथ ही शुरू हो जायेगी। आपसे अनुरोध है की जल्द से जल्द प्रशिक्षण के लिए आवेदन पत्र भेजें।  

 
'यौनिकता,जेंडर एवं  अधिकार - एक अध्ययन' क्रिया द्वारा संचालित, एक सप्ताह का आवासीय अध्ययन कार्यक्रम है।इस कार्यक्रम में समुदाय आधारित संस्थाओं में कार्यरत महिलाओं को यौनिकता, अधिकार, जेंडर और प्रजनन स्वास्थ्य के वैचारिक सिद्धांतों से अवगतLink for.....

17 December 2018
New Delhi

यह प्रशिक्षण, इस श्रृंखला की तेरहवीं कड़ी है| प्रशिक्षण के लिए आवेदन पत्र आप यहाँ से डाऊनलोड कर सकते हैं। भरे हुए आवेदनपत्र भेजने की आख़िरी तिथि 12 अक्टूबर  2018 है |

 
विशेष - चयन की प्रक्रिया प्रतिभागियों के मिल रहे आवेदनों के साथ ही शुरू हो जायेगी। आपसे अनुरोध है की जल्द से जल्द प्रशिक्षण के लिए आवेदन पत्र भेजें।  

 
'यौनिकता,जेंडर एवं  अधिकार - एक अध्ययन' क्रिया द्वारा संचालित, एक सप्ताह का आवासीय अध्ययन कार्यक्रम है।इस कार्यक्रम में समुदाय आधारित संस्थाओं में कार्यरत महिलाओं को यौनिकता, अधिकार, जेंडर और प्रजनन स्वास्थ्य के वैचारिक सिद्धांतों से अवगतLink for.....

9 December 2018
Amsterdam, Netherlands

“Till I was 17, I did not have a word for who I was, or could be. I did not know I was a transgender girl. But as a 16-year-old, I discovered the internet.”  Nadika, The Smartphone Freed Me | 13 August 2015, https://deepdives.in

Millions of individuals and communities around the world today use technology to explore, express, navigate and advocate for their gender, sexuality and rights. Phones, simple or smart. Desktops. Smart watches. Tablets.In the digital age, our lives are no longer ‘physical only’. The way we live now is defined, to some extent or another, by technology. TheLink for.....

17 August 2018

As we all know, the state of Kerala and parts of South India are facing disastrous floods, which have caused extreme damage to life and property. Numerous people have been displaced and evacuated. 

Two of our speakers for the event- Nalini Jameela and Dr. Reshma Bharadawaj,who were coming from Kerala, are unable to travel as the transportation is disrupted, airport and roads are closed and no other options are available. They also need to be with their families during this distressful time. Therefore, they will not be able to join us for the conversation tomorrow in Delhi.

Link for.....

Pages