यौनिकता, जेंडर एवं अधिकार - एक अध्ययन

17 December 2018
New Delhi

यह प्रशिक्षण, इस श्रृंखला की तेरहवीं कड़ी है| प्रशिक्षण के लिए आवेदन पत्र आप यहाँ से डाऊनलोड कर सकते हैं। भरे हुए आवेदनपत्र भेजने की आख़िरी तिथि 12 अक्टूबर  2018 है |

 
विशेष - चयन की प्रक्रिया प्रतिभागियों के मिल रहे आवेदनों के साथ ही शुरू हो जायेगी। आपसे अनुरोध है की जल्द से जल्द प्रशिक्षण के लिए आवेदन पत्र भेजें।  

 
'यौनिकता,जेंडर एवं  अधिकार - एक अध्ययन' क्रिया द्वारा संचालित, एक सप्ताह का आवासीय अध्ययन कार्यक्रम है।इस कार्यक्रम में समुदाय आधारित संस्थाओं में कार्यरत महिलाओं को यौनिकता, अधिकार, जेंडर और प्रजनन स्वास्थ्य के वैचारिक सिद्धांतों से अवगत करवाया जाता है एवं इनके सांस्कृतिक, सामाजिक और कानूनी मामलों के बीच के जुड़ाव, विश्लेषण और परस्पर सम्बन्ध के बारे में जानकारी दी जाती है। इस कार्यक्रम में यौनिकता, जेंडर एवं अधिकार से सम्बंधित हिंदी संसाधन सामग्री भी उपलब्ध होगी|

 
मुख्य शिक्षकगण

प्रमदा मेनन एक क्वीयर नारीवादी एक्टिविस्ट हैं। ये  जेंडर, यौनिकता और महिलाओं के मानव अधिकार मुद्दों पर कार्य कर रही हैं। प्रमदा क्रिया की सह संस्थापक भी हैं। वर्तमान में ये स्वतंत्र सलाहकार के रूप में कार्य करती हैं एवं डॉक्युमेंटरी फिल्म बनाती हैं।

 

शालिनी  सिंह महिला मुद्दों के क्षेत्र में गत 22 वर्षों से कार्य कर रही हैं एवं पिछले 14 साल से वे क्रिया के साथ कार्य करते हुए सभी हिंदी प्रशिक्षणों कोआयोजित और संचालित करती हैं| क्रिया में शालिनी महिला संस्थाओं के नेटवर्क के क्षमता वृद्धि का कार्य करते हुए, नारीवादी नेतृत्व , महिला हिंसा, जेंडर, यौनिकता और अधिकार से जुड़े कानून पर प्रशिक्षण देने का कार्य करती हैं। हिंदी प्रशिक्षण करने के साथ साथ क्रिया के सभी हिंदी प्रकाशनों और ट्रेनिंग मैन्युअल को लिखने, अनुवाद और प्रकाशन सम्बंधित कार्य भी शालिनी की जिम्मेदारी है| 
 

सामlजिक विज्ञान की शैक्षिक पृष्ठभूमि के साथ शालिनी एक वकील और प्रशिक्षित काऊंसलर है।

 

कुछ अन्य शिक्षकगण

  • दीप्ता भोग  
  • दीपिका श्रीवास्तव
  • चयनिका शाह
  • पारोमिता वोहरा 
  • रत्नाबोली रे
  • अन्य

आयोजक

वर्ष 2000 में स्थापित, क्रिया नई दिल्ली में स्थित एक नारीवादी मानव अधिकार संस्था है। यह एक अंतर्राष्ट्रीय महिला अधिकार संस्था है, जो समुदाय, राष्ट्रीय, क्षेत्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर काम करती है। मानव अधिकार आन्दोलनों और समूह के विभिन्न भागीदारों के साथ मिलकर क्रिया महिलाओं और लड़कियों के अधिकारों को आगे बढ़ाने और सभी लोगों की यौनिक और प्रजनन स्वास्थ्य व अधिकारो के मुद्दों पर कार्य करती है।क्रिया राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर सकारात्मक सामाजिक बदलाव के लिए पैरवी करती है और कोशिश करती है की एक्टिविस्ट्स और पैरवीकारों को ट्रेनिंग और सीखने के कई तरह के मौके मिले |

 
प्रतिभागी और चुनाव 

वह सभी व्यक्ति जो खुद को महिला मानते हैं और  सामाजिक बदलाव के मुद्दों पर कम से कम 2 साल से कार्य कर रहे  हैं, इस प्रशिक्षण के लिए आवेदन कर सकते हैं। सभी सत्र और संसाधन हिंदी में होंगे। अतः सभी प्रतिभागियों को हिंदी में पढना और लिखना आना आवश्यक है| 

 

क्रिया आपसे निवेदन करती है की जल्द से जल्द अपने आवेदन पत्र हमें भेजें |आवेदन पत्र और कार्य अनुभव के आधार पर 25-30 प्रतिभागी चुने जायेंगे। सभी प्रतिभागियों को पूरे कार्यक्रम के दौरान कार्यक्रम स्थल पर ही रहना होगा। केवल चुने गए प्रतिभागियों को 26 अक्टूबर 2018 तक चयन की सूचना भेजी जाएगी।
 

प्रशिक्षण शुल्क

यह प्रशिक्षण निःशुल्क है। क्रिया सहभागियों के रहने व खाने का प्रबंध करेगी। प्रत्येक कमरे में दो प्रतिभागियों के रहने की व्यवस्था की जायेगी। आने जाने का टिकट ( 2nd A/C ट्रैन) का भुगतान भी क्रिया द्वारा किया जाएगा। 

 

तिथि और स्थान

यौनिकता , जेंडर एवं अधिकार - एक अध्ययन पर यह कार्यक्रम 17 से 22 दिसम्बर 2018 तक नई दिल्ली में संचालित की जाएगी | प्रतिभागियों से उम्मीद की जाएगी की वह प्रशिक्षण स्थान पर 16 दिसम्बर की शाम तक पहुच जाए | वह 22 दिसम्बर को शाम 5 बजे के बाद वापस जा सकते है | 
          

आवेदन

आवेदन पत्र भरकर हमें sgrihindi@creaworld.org  पर 12 अक्टूबर 2018 तक ईमेल कर दें। आप आवेदन पत्र 011- 24377708 पर फैक्स/पोस्ट भी कर सकती हैं अथवा 7 मथुरा रोड, दूसरी मंजिल, जंगपुरा बी, नई दिल्ली 110014 पर पोस्ट कर सकती हैं। आप हमें फ़ोन पर  - 011- 24377707/24378700- संपर्क भी कर सकती हैं। 

 

ईमेल करने पर सब्जेक्ट में 'Application/आवेदन पत्र' अवश्य लिखें और पोस्ट या कूरियर भेजने पर भी लिफाफे पर 'Application/आवेदन पत्र' लिखें।

 

इस कार्यक्रम का आयोजन अमेरिकन ज्यूइश वर्ल्ड सर्विसेस के आर्थिक सहयोग से किया गया है। क्रिया इस सहयोग के लिए उनका धन्यवाद करती है।

 

Sexuality, Gender and Rights Institute - Hindi

December 17-22, 2018

New Delhi

 

CREA's Sexuality, Gender, and Rights Institute is an annual residential course--begun in 2007--which focuses on a conceptual study of sexuality and its application to programme interventions. The Institute examines the links between sexuality, rights, gender, and health, and their interface with socio-cultural and legal issues. Participants critically analyse policy, research, and programme interventions using a rights-based approach.

 

Applications are due on or before 12 October 2018.  Click here to download the application form.

 

Note: We will be selecting participants each week on a rolling basis. You are requested to kindly apply for the institute as early as possible.
 

Core Faculty

Pramada Menon: Pramada Menon is a queer feminist activist working on issues of gender, sexuality, sexual rights, women's human rights. She is the co-founder of CREA. She presently works as an independent  consultant and a documentary film maker.

 

Shalini Singh: Shalini Singh is a feminist activists and lawyer. At CREA, Shalini designs and manages all Hindi training programs and institutes, which includes the annual Basic training on Gender and Sexuality, Feminist Leadership Institute and the Sexuality and Gender Rights Institute in Hindi. She is in-charge of developing resource materials in Hindi, and has been involved in various aspects of community based programs in Bihar, Jharkhand and Uttar Pradesh. Shalini is a trained counsellor, with a background in social sciences and law. 

 

Other Faculty Members

  • Chayanika Shah
  • Dipta Bhog
  • Dipika Srivastava
  • Paromita Vohra
  • Ratnaboli Ray
  • Others

Organiser

CREA builds feminist leadership, advances women's human rights, and expands sexual and reproductive freedoms for all. Founded in 2000, CREA is a feminist human rights organization based in the Global South and led by Southern feminists. CREA works at the grassroots, national, regional, and international levels.

Participants and Selection Process

All those who consider themselves a woman can apply for the training. Around 25-30 participants will be selected from all over India, based on their application forms and their ability to demonstrate how they would apply the lessons of the Institute to the work they do. Individuals working on issues of sexuality, LGBT rights, sexual rights, sex workers rights, HIV/AIDS, violence against women, health, and/or gender are eligible to apply. Participants are required to stay for the whole duration of the course. Proficiency in reading and writing in Hindi is essential.
 

Cost of Participation

There is no course fee. CREA will make arrangements for accommodation and meals during the duration of the Institute. Accommodation will be on twin-sharing basis. Return tickets (only 2nd AC train tickets) will be reimbursed by CREA.

 

Venue and Dates

The Sexuality, Gender, and Rights Institute will be held in New Delhi, December 17 - 22, 2018. Participants are expected to arrive by 16th evening and leave on 22nd after 5:00pm. 

 

Application Procedure

Applicants are requested to send their filled in application form, latest by 12 October 2018. Our email Id is sgrihindi@creaworld.org. You can also send your application form by fax to 011- 24377708 or by post to 7 Mathura Road , 2nd Floor, Jangpura B , New Delhi - 110014. For more details contact : 011- 24377707/24378700.

 
Please write 'Application Form' in the Subject line of the email or on the envelope, if sending by post. 

 

We thank American Jewish World Services ( AJWS ) for their support in organising this Institute.